Email क्या है, Email कैसे लिखे और किसने किया Email का आविष्कार? पूरी जानकारी हिंदी में

Email क्या है और Email कैसे लिखे- Internet के शुरूआती दौर में इन्टरनेट पर की जाने वाली पहली गतिविधियों में से एक ईमेल भेजना भी था जो आज भी बहुत प्रचलित है. आज भी इन्टरनेट पर traffic का बड़ा हिस्सा Emails से आता है इसका एक बड़ा कारण ये भी है कि इन्टरनेट पर सर्विस का उपयोग करने लिए Email address जरुरत पड़ती है. Jio के आ जाने से Internet users की संख्या तेजी से बढ़ रही है लेकिन बहुत से ऐसे लोग है जिन्हें ये नहीं पता कि ईमेल क्या होता है?

आज के इस तकनीकी दुनिया में ईमेल, संचार (communication) करने का महत्वपूर्ण साधन है चाहे वह business हो या फिर personal use जैसे अगर आप student है या फिर employee और या फिर कोई online seller तीनो ही एरिया में आपको communication करने में emails से बहुत मदद मिलेगी. तो चलिए शुरू करते है कि Email क्या है हिंदी में?(What is Email in Hindi)

Email क्या है – What is Email in Hindi?

Email का पूरा नाम Electronic Mail है. इसे E-mail भी कहते है. Email में हम पेपर पर पेन से लिखने के बजाए हम keyboard से computer या smartphone पर मेसेज लिखते है. इसमे एक यूजर दूसरे यूजर को इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के जरिये मेसेज भेजता है. इसमे मेसेज भेजने के लिए इन्टरनेट का इस्तेमाल होता है और इसके द्वारा मेसेज को किसी एक या बहुत सारे लोगो को एक साथ भेजा जा सकता है.
ये मेसेज तुरन्त पहुच जाता है इस मेसेज में text या non text  file (photos, videos, zip files etc) भेजा जा सकता है. ये मेसेज Email सेवा देने वाली कंपनी के सर्वर में सेव रहता है और sender या receiver उन messages को कभी भी देख या delete कर सकता है.

ईमेल भेजने के लिए user के पास एक email address होता है जैसे [email protected], इस email address में @ के पहले वाला भाग एक unique username होता है जबकि @ के बाद वाला email service provider का domain name होता है. 

Email और Gmail में क्या अंतर है ?

ईमेल का आविष्कार किसने किया ?

सबसे पहला Email सन 1971 में Raymond Samuel Tomlinson द्वारा दो कंप्यूटरों के बीच ARPAnet (Advance Research Project Agency network) के सहायता से भेजा गया था लेकिन सन 1978 में Shiva Ayyadurai ने आज के email के inbox, folder, outbox, attachments आदि को design किया था और वर्ष 1982 में Shiva Ayyadurai ने इस email system को कॉपीराइट भी करवा लिया था. इसीलिये औपचारिक तौर पर Shiva Ayyadurai को ईमेल का inventor (आविष्कारक) माना जाता है. आपकी जानकारी के लिए बता दू कि आज के इन्टरनेट का आधार ARPAnet ही है.

ये भी पढ़े ARPANET क्या है | What is ARPANET in Hindi?

Valid email address को कैसे पहचाने ?

दोस्तों Valid (वैध) email बनाने के कुछ नियम है जिन्हें हम सभी को फॉलो करना होता है. इन नियमो को फॉलो करके आप एक valid email address को पहचान सकते है.

  • 1. किसी भी email के दो भाग होते है username और domain name जैसे [email protected], यहा पर utsukhindi एक username है जबकि outlook.com एक domain name है. हमेशा username @ के बाये में और domain name @ के दाए में होना चाहिए.
  • 2. username में letters (a-z), numbers,underscore( _ ), dash (-), periods(.) हो सकता है. कोई भी username (.) से शुरू या समाप्त नहीं हो सकता है. जैसे [email protected] एक invalid username है.
  • 3. gmail में username, 30 characters से ज्यादा नहीं होना चाहिए और कुछ ईमेल सर्विस प्रोवाइडर 64 character तक allow करते है.
  • 4. domain name, 254 characters से ज्यादा का नहीं होना चाहिए.

ईमेल कैसे लिखे और भेजे?  

किसी भी ईमेल को लिखने के लिए आपको निम्नलिखित बातो की जानकारी होनी चाहिए. 

Email क्या है
  • 1. “From” – इसमे मेसेज लिखने वाले का मतलब Sender का email address होता है. इसे fill नहीं करना होता है यह automatically fill रहता है.
  • 2. “To – इसमे जिसे मेसेज लिखा जा रहा है उसका email address होता है मतलब receiver का. 
  • 3. “Subject”- कोई भी receiver सबसे पहले यही पढता है तो इसमे आपको मेसेज के विषय में छोटा सा title लिखना होता है. टाइटल ऐसा लिखना चाहिए जो मेसेज के विषय में पूरी तरह से बताये. इसे लिखना वैकल्पिक होता है.
  • 4. CC ( Carbon Copy)- इसमे हम बहुत सारे लोगो को एक साथ email भेज सकते है. जैसे to field में हमें उनका email address लिखना होता है जिसे उस मेसेज पर एक्शन लेने का अधिकार है. और CC में उन लोगो का email address लिखना होगा जिन्हें हमें email की copy भेजनी है. इसका प्रयोग करना वैकल्पिक होता है. इसमे सभी लोग एक दुसरे का email address देखकर ये पता कर सकते है किन किन लोगो को email भेजा गया है. 
  • 5. BCC ( Blind Carbon Copy)- मान लीजिये आप x,y,z  तीन लोगो को email भेजना चाहते है लेकिन आप ये नहीं चाहते कि x को पता चले कि ये mail y और z को भी भेजा गया है तो आपको bcc में y और z का email address लिखना होगा. BCC, CC से ज्यादा confidential होता है. इसका प्रयोग करना वैकल्पिक होता है.
  • 6Attachments- इस भाग में आपको वो files attach करनी है जो आप भेजना चाहते है. जैसे media files, documents etc.  
  • 7. Message body- जैसे लिफाफा में कोई पत्र होता है उसी तरह email में मेसेज बॉडी होती है. इसी भाग में आपका मेसेज लिखा होता है.

ईमेल में क्या भेज सकते है?

Email में आप कोई भी Text message,documents, audio, video, zip files भेज सकते है लेकिन याद रहे इन सबकी साइज़, लिमिट से ज्यादा नहीं होनी चाहिए. Gmail, Yahoo में size limit 25 MB है जबकि Outlook में 20 MB है. size limit से ज्यादा की फाइल भेजने के लिए आप files को 7Zip या Win rar का प्रयोग करके compress कर सकते है. Gmail में 25 MB से ज्यादा की फाइल भेजने के लिए Google drive का भी प्रयोग करते है. 

ईमेल के लाभ 

  • Free service- Email service free होती है. इन्टरनेट के अलावा आपको कही पैसे खर्च करने की जरुरत नहीं है. आप फ्री में मेसेज sendऔर receive कर सकते है.
  • Fast speed with 24X7- दुनिया के किसी भी कोने में आप मेसेज तुरंत भेज सकते है. वो भी सप्ताह के सातों दिन 24 घंटे किसी भी समय.
  • High storage- Gmail में 15GB, Yahoo mail में 1TB और Outlook में 100GB मिलता है. महत्वपूर्ण मेसेज और documents save करने के लिए इतना स्टोरेज काफी है.
  • Record of all messages- Email द्वारा भेजे गए या रिसीव किये गए सारे मेसेज एक लाइब्रेरी में किताबों की तरह store रहते है.
  • Simple, safe and secure- Email use करना बहुत आसान है, चाहे email लिखना हो या फिर send करना. सारे messages online आपके email account में save रहते है जिसे केवल पासवर्ड से ही खोला जा सकता है. इसलिए कागजी जानकारी की तुलना में सुरक्षित भी है. 
  • Mass sending- Email का सबसे अच्छी बात ये है कि इसमे एक message बहुत सारे लोगो को एक साथ भेज सकते है. 

ईमेल के हानि 

  • ज्यादा साइज़ की फाइल्स नहीं भेज सकते है जैसे Gmail में 25 MB की files से ज्यादा बड़ी नहीं भेज सकते है.
  • Email के द्वारा computer virus भेजा जा सकता है. 
  • Spam- Email account में बहुत सारे ऐसे services मेसेज आते है जिन्हें हमने subscribe भी नहीं किया होता है. यह ठीक उसी प्रकार है जैसे हमारे मोबाइल नंबर पर loan, dating, marketing message आते है.
  • Lottery scam emails– इस तरह के mail बहुत आते है जिसमे दावा किया जाता है आपकी 1.5  मिलियन डॉलर्स की लाटरी लगी है और फिर इसके लिए आपकी कुछ जानकारी और 25000 रुपये मांगे जाते है. इस तरह से mail से बचकर रहिये.
  • Email भेजने और रिसीव करने के लिए sender और receiver के पास इन्टरनेट होना चाहिए. 
  • information overload- बहुत जगह email address देने से हमारे पास बहुत सारे email आने लगते है.

Some popular email service providers

जैसा कि मैंने आपको ऊपर बताया कि Email क्या है अब मै आपको कुछ उदहारण से email service providers जैसे Gmail, Yahoo mail, Protonmail, Outlook के बारे में बताऊंगा. Internet पर आपको बहुत सारे email service provider मिल जायेंगे लेकिन सबके अपने अपने features है जैसे किसी में storage ज्यादा है तो किसी में spam filters है. इसलिए email service चुनते समय आपको कुछ बातो ध्यान रखना चाहिए जैसे storage,  spam filters, user friendly, mobile support आदि. 

Gmail

यह Google की फ्री ईमेल सर्विस है. यह Android Smartphones में पहले से ही इनस्टॉल होता है. इसमे आपको security के लिए Two Step  verification मिलता है. आपको mail messages के लिए 15 GB storage मिलता है. ये सर्विस 71 भाषाओ (हिंदी को लेकर) में उपलब्ध है. 

Outlook.com (or hotmail.com)

इसमे आपको 15 GB storages space मिलता है , ये सर्विस 106 भाषाओ (हिंदी को लेकर) में उपलब्ध है. गलती से डिलीट किये मेसेज को रिकवर कर सकते है. easy user interface, multiple app integrations इसकी खास बात है. 

Yahoo Mail

इसमे आपको 1TB storages space मिलता है. good spam filters (spam या junk email को अलग करना),  Yahoo mail की खासियत है. इसमे आप 500 disposable email address बना सकते है, ये सर्विस 27 भाषाओ (हिंदी को लेकर) में उपलब्ध है. इसमे photos ,videos, documents सर्च करना ज्यादा सरल है.  

Proton mail

इसमे आपको 500MB का Storages space मिलता है, इसमे आप Email को encrypt करके भेज सकते है इसलिए ये ज्यादा सुरक्षित है. और email की expiry date भी सेट कर सकते है. 

निष्कर्ष: Email क्या है?

दोस्तों आज के इस पोस्ट में मैंने आपको बताया Email क्या हैहिंदी में (What is Email in Hindi) और इससे सम्बंधित सारी जरुरी जानकारी जैसे username, Password, “ईमेल कैसे लिखे और ईमेल कैसे भेजते है” जो आपको पता होनी चाहिए इसके अलावा भी आपको अगर इस बारे में कोई और जानकारी चाहिए तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते है. और ये पोस्ट पसंद आई हो तो इसे सोशल मीडिया facebook, Whatsapp, Twitter आदि पर जरुर शेयर कीजियेगा.
इस तरह की और जानकारी के लिए आप हमारे Tech, Google products और Internet केटेगरी को देख सकते है और हमारे फेसबुक, इन्स्ताग्राम, Quora और ट्विटर पेज को भी फॉलो कर सकते है.

Leave a Comment

₹5,999 वाला Nokia C01 plus ₹15,000 के अन्दर Best 5G Mobile ₹ 7,000 तक के बेस्ट स्मार्टफोन ₹ 25,000 तक के बेस्ट स्मार्टफोन ₹ 20,000 तक के बेस्ट कैमरा फोन ₹ 10,000 तक के सैमसंग के बेस्ट फोन ₹ 10,000 तक के बेस्ट स्मार्टफोन ₹ 10,000 तक के नोकिया के बेस्ट फोन हिंदी दिवस 14 सितम्बर को क्यों मनाते है? स्मार्टफोन की बेहद आसान ट्रिक्स व्हात्सप्प चैट एक्सपोर्ट या सेंड कैसे करे? विंडोज कंप्यूटर शॉर्टकट Key लिस्ट राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस 2021 मोस्ट पावरफुल प्रोसेसर वाला Realme GT बिट कॉइन को मान्यता देने वाला पहला देश El Salvador पेट्रोल प्राइस का सारा कच्चा चिट्ठा पावरफुल बैटरी वाला फोन Nokia G10 पावरफुल बैटरी वाला गेमिंग फोन – Poco F3 GT नेटफ्लिक्स के बारे में रोचक जानकारी नीरज चोपड़ा का ऐतहासिक गोल्ड मेडल-Tokyo Olympic 2020